बीसीईसीई बोर्ड ने नहीं कराई मेरी काउंसलिंग: डॉ0 अजमत फातमा

 पटना, बिहार के मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव, बिहार सरकार, स्वास्थ्य एवं परिवार नियोजन मंत्री, बिहार और अध्यक्ष, बीसीईसीईबी, पटना को डाॅ0 अजमत फातमा ने एक पत्र भेजा है। उन्होंने पत्र के माध्यम से कहा है कि दिनांक 25 फरवरी, 2023 को निर्धारित समय प्रातः 10:00 बजे से पूर्व मैं पटना हवाई अड्डे के पास बीसीईसीईबी बोर्ड आईएएस एसोसिएशन भवन स्थित बोर्ड के कार्यालय में पीजी में प्रवेश हेतु आयोजित काउंसिलिंग हेतु पहुँच गयी थी. मैं सारा दिन वहीं बैठी रही, शाम 7 बजे मुझे बाकी सभी उम्मीदवारों के साथ काउंसलिंग के लिए अंदर ले जाया गया और हमें बताया गया कि बाहरी सीट भर गयी है इसलिए केवल आंतरिक वाले ही रह सकते हैं। और हमारी काउंसिलिंग नहीं हुई। मैं इस रवैये का विरोध करती हूं और दृढ़ता से मानती हूं कि काउंसलिंग में भ्रष्टाचार हुई है, अन्यथा हमारी काउंसलिंग होती। यह कहते हुए डॉ0 अजमत फातमा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, मुख्य सचिव आमिर सुबहानी, स्वास्थ्य मंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव व बीसीईसीईबी बोर्ड पटना के अध्यक्ष आनंद किशोर से काउंसिलिंग में हुए भ्रष्टाचार की जांच कराने, अपनी काउंसिलिंग कराने व भ्रष्ट कर्मचारियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here